सरकारी योजना

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY) ऑनलाइन आवेदन कैसे करें 2021

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

भारत लगभग 130 करोड़ जनसंख्या वाला देश है। इतनी बड़ी जनसंख्या वाले देश को चलाने के लिए बहुत सारे खाद्यान्न तथा अन्य आधारभूत सुविधाओं की आवश्यकता होती है। इन सुविधाओं को मुहैया करवाने के लिए केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार के बीच में आपसी समन्वय होना अति आवश्यक है।

जैसा कि आप जानते ही हैं कि भारत एक विकासशील देश है भारत के ज्यादातर लोग गांव में बसते हैं। इस वजह से भारत में ज्यादातर लोग गरीब तथा पिछड़े वर्ग में है। इन लोगों की समस्याओं का समाधान करने के लिए राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार दोनों ही कई प्रकार की योजनाएं लाकर इन लोगों का उत्थान करने की कोशिश करती है। जब भी कोई समस्या होती है तो सबसे ज्यादा तकलीफ बच्चों तथा महिलाओं को होती है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने एक ऐसी महत्वाकांक्षी तथा लाभकारी योजना बनाई है। जिसके माध्यम से गरीब परिवार की महिलाओं को खुशी मिल सके। हम जिस योजना के बारे में बात कर रहे हैं वह प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना है।

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे तथा यह भी बताएंगे कि इस योजना का लाभ,  पात्रता तथा इसके लिए आवेदन आप कैसे कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना क्या है

यह केंद्र सरकार द्वारा संचालित योजना है इसकी शुरुआत 1 मई 2016 को की गई थी। इसका नेतृत्व पेट्रोलियम गैस मंत्रालय करता है। शुरुआत में 8,000 करोड रुपए का बजट आवंटित किया गया था, बाद में इसे बढ़ाया गया। गांव में गरीब परिवार की महिलाएं लकड़ी अथवा गोबर के उपले आदि के माध्यम से खाना पकाते हैं। जिससे कि उनके स्वास्थ्य पर गंभीर प्रभाव पड़ता है।

इस समस्या को देखते हुए केंद्र सरकार ने इस योजना के अंतर्गत उन गरीब महिलाओं को ईंधन के रूप में रसोई गैस सिलेंडर दिए गए, जिससे कि उन गरीब परिवार की महिलाओं तथा बच्चों पर जो प्रदूषण के कारण स्वास्थ्य संबंधी बीमारी हो रही थी उससे बचाया जा सकता है इसलिए सरकार ने गरीबी रेखा से नीचे (BPL) के परिवारों को एलपीजी सिलेंडर उपलब्ध कराने का निर्णय लिया।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की विशेषताएं

  • इस योजना के तहत केवल गरीबी रेखा से नीचे के परिवार वालों को ही रसोई गैस कनेक्शन प्राप्त होगा परंतु इसके लिए इस बात का ध्यान रखना होगा कि परिवार में पहले से एलपीजी कनेक्शन ना हो।
  • रसोई गैस कनेक्शन के लिए सामाजिक, आर्थिक तथा जाति गणना सूची के अनुसार ही कनेक्शन दिया जाएगा।
  • इसमें केंद्र सरकार 1600 रुपए तक की आर्थिक सहायता एलपीजी कनेक्शन के दौरान प्रदान करेंगी।
  • इसके अंतर्गत ग्राहकों को गैस चूल्हा तथा रेगुलेटर की खरीदी का भुगतान स्वयं को ही करना होगा। इन सामग्रियों का पैसा ग्राहक किस्तों के रूप में दे सकता है।
  • इस योजना के तहत सरकार का यह उद्देश्य था कि एलपीजी कनेक्शन ज्यादा से ज्यादा गरीब परिवारों तक पहुंचाया जाए।
  • इस योजना का लक्ष्य 5 करोड़ एलपीजी कनेक्शन करवाना है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभ

  • महिलाओं के स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करना।
  • गांव में ज्यादातर लोग ईंधन के रूप में जंगलों की कटाई करते हैं जिससे जंगलों पर प्रदूषण का दबाव बढ़ रहा है इस बात को ध्यान में रखते हुए लोग एलपीजी कनेक्शन करेंगे तो जंगल की कटाई कम होगी।
  • गांव की आर्थिक तथा सामाजिक स्थिति सुधरेंगे।
  • धुआ के वजह से बच्चों के भी स्वास्थ्य पर असर आता था परंतु इस कनेक्शन से इसे रोका जा सकता है।
  • गांव में बारिश के समय इंधन की बड़ी समस्या हुआ करती थी अब इस योजना के माध्यम से लोगों को इस समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।
  • महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2020 के नए संशोधन

16 मार्च 2020 को श्रीमती निर्मला सीतारमण ने अपने घोषणा पत्र में यह कहा कि आगामी 3 महीनों तक सरकार सभी बीपीएल परिवार को मुफ्त में एलपीजी सिलेंडर उपलब्ध कराएंगे। इस घोषणा का यह उद्देश्य हैं कि कोरोनावायरस का संक्रमण भारत में दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। इस बात को ध्यान में रखते हुए सभी गरीब परिवार जो बीपीएल श्रेणी में आते हैं उनकी संख्या बढ़ाकर 8.3 करोड़ परिवार कर दी गई है।

जब यह योजना शुरू हुई थी तब किस का बजट आठ हजार करोड़ था अब इसे 2020 में बढ़ा दिया गया है। यदि कोई बीपीएल धारक अपना नाम इस नई लिस्ट में देखना चाहता है तो आप ऑनलाइन पोर्टल में जाकर देख सकते हैं कि आपका नाम इस योजना के तहत आया या नहीं इस योजना का लाभ सभी राज्य के बीपीएल परिवारों को मिल पाएगा।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना हेतु पात्रता

  • भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • वह परिवार जो अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के अंतर्गत आता हो।
  • वह व्यक्ति जो अंत्योदय अन्न योजना के तहत आता हो।
  • चाय और टी गार्डन जनजाति इस योजना के लिए पात्रता रखते हैं।
  • वह पिछड़े वर्ग जो गरीबी रेखा के नीचे हो वह भी इस योजना के लिए पात्रता रखते हैं।
  • दिव्यांग व्यक्ति भी इस योजना के अंतर्गत है।
  • आवेदक एक बीपीएल कार्ड धारक ग्रामीण होना चाहिए।
  • आवेदक की उम्र 18 वर्ष से ऊपर होनी चाहिए।
  • आवेदक के परिवार में पहले से एलपीजी कनेक्शन नहीं होना चाहिए।
  • महिला आवेदक को सब्सिडी प्राप्त करने के लिए किसी राष्ट्रीय कृत बैंक में खाता होना चाहिए।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • बीपीएल राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • मतदान पत्र
  • पासपोर्ट साइज का फोटो
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • बिजली का बिल
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक का खाता

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए आवेदन कैसे करें

यदि आपको भी इस योजना का लाभ लेना है तो इसकी रजिस्ट्रेशन की पूरी प्रक्रिया जाना अनिवार्य है हम आपको इस बिंदु के अंतर्गत इसके आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया के बारे में विस्तारपूर्वक बताएंगे। जो इस प्रकार है:-

  • सब से पहले आवेदक को इसकी आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmuy.gov.in में जाना होगा वेबसाइट में जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके पश्चात होम पेज में दिए गए, डाउनलोड फॉर्म पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने कुछ विकल्प दिखाई देंगे, इसमें आपको ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना फॉर्म’ पर क्लिक करना है।
  • आवेदन फॉर्म पीडीएफ के रूप में होगा। आप इस पीडीएफ को डाउनलोड कर इसका प्रिंट निकाल ले।
  • अब आवेदक को आवेदन पत्र प्राप्त हो जाता है, इसके पश्चात इस फॉर्म में आपसे कुछ जानकारी मांगी जाएंगी। आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि इस आवेदन पत्र में आपको सही-सही जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इस आवेदन पत्र में विवरण के रूप में आयु, पता, तारीख, आवेदक के हस्ताक्षर, एलपीजी कनेक्शन आदि जैसी महत्वपूर्ण जानकारी आपसे मांगी जाएंगी, आप इन सभी जानकारियों को फॉर्म में दर्ज कर दे।
  • फॉर्म भरने के बाद आप इसे एलपीजी वितरक कार्यालय में जमा करें।
  • आवेदन जमा करते समय अभी तक महिला को परिवार के सदस्यों की संख्या, बैंक खाता, विस्तृत पता आदि आवश्यक दस्तावेज भी जमा करना होगा।
  • इस तरह से आप एलपीजी वितरक कार्यालय में अपना फॉर्म जमा कर देते हैं।
  • जमा करते ही इस संदर्भ में कार्य शुरू हो जाता है। कुछ समय बाद दस्तावेजों का सत्यापन, आवेदक की पात्रता की जांच तथा कनेक्शन जैसे महत्वपूर्ण कार्य चालू हो जाते हैं।
  • इस तरह से आप इस प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं तथा इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे। इस लेख का उद्देश्य प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देना था ताकि इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोग ले सके।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.