हेल्लो Students! आज हम आपको इस Article के जरिये बताने जा रहे हे की आखिर पायलट (Pilot) बनते केसे हे और पायलट बनानेके लिए जो भी महत्वपूर्ण बाते है उसके के बारे मे आपको बताने जा रहा रहे हे, जेसे की पायलट बनने के लिए कितना एजुकेशन (Qualification) होना चाहए, कितनी आयु (AGE) होनी चाहए, उनके इए कोनसा कौर्स (Course) करना चाहिए, पायलट नोंकरी की माह वेतन (Salary) कितनी होती है, उन सारी बाते जानने के लिए ये इस Articles को पूरा पढियेगा और हर बात को समजे और Follow कीजिए ताकि पायलट केसे बने जान सके|

पायलट केसे बने ?

कई सारे छात्रों का बचपन से सपना रहता हे पायलट (Pilot) बनना, इसके लिए कई छात्र दिनरात बहोत महेनत भी करते है, और ज्यादातर छात्र पायलट स्कूल मे, कोचिंग के जरिये ट्रेनिंग लेते हे फिर भी कई छात्र पायलट की नोकरी पाने मे असफल हो जाते है, आपको साफ़ बतादे रहे हे हम की यह पायलट की नोंकरी पाने के लिए आपको बहोत ही परिश्रम करना पड़ता है तब जाकर ये नोंकरी पाना संभव होता है, यह बात आप अच्छे से दिमाग मे याद रख लिजिये, जो Commercial पायलट (Pilot) होते हे उसकी सेलरी करीबन एक लाख से साडे चार लाख तक की हो सकती है, और आपको यह बात भी बतादे की यह पायलट की नोंकरी सिर्फ पेसो कमाने के लिए नही है और यह नोंकरी मैं बहोत ही रोमांच भरा हुआ होता है जिसे आपको अपने आप पे गर्व भी महसूस होगा पायलट की नोंकरी प्राप्त करने का |

पायलट (Pilot) बनने के लिए पढाई और परिक्षण 

दुनिया मै कई सारी कंपनिया है उनमेसे कुछ छोटी है तो कुछ बड़ी हे उनके हिसाब से सब पायलोट (Pilot) की माह वेतन (Salary) अलग अलग होती है, लेकिन पायलट बनने की ट्रेनिंग एक जेसी ही होती है, इनमे एक खास बात और भी हे की आपको अच्छा ENGLISH भासा का ज्ञान होना चाहिए, 12पास विथ साइंस और फिसिक्स, केमिस्ट्री मैथ्स विषय होने चाहिए, आप शारीरिक रूप से HEALTH (स्वस्थ) होने चाहिए, और एक बात अगर आप को पायलट बंना हे तो 17 साल से पहले ही तैयारी शरु कर देनी चाहिए ताकि आप सफल हो पाए सही टाइम पर|

हर छात्र को 12वि (12th) पास करने के बाद DGCA मान्यता प्राप्त फ्लाइंग क्लब मै एडमिशन लेना होगा, एडमिशन के दौरान आपको कई सारे टेस्ट देने होंगे जेसे की प्रेक्टिकल, ट्रेनिंग, मेडिकल टेस्ट, ये सब मैं पास हो जाने के बाद आपको SPL-STUDENT PAYALOT LICEANCE का सर्टिफिकेट मिल जाता है, उनके बाद आपको PPL PRIVATE PAYALOT LICEANCE का सर्टिफिकेट हांसिल करना जरुरी होता है, हमे इनमे ट्रेनिंग दी जाती है कभी कभी ट्रेनर हमारे साथ होते है तो कई बार हमें खुद विमान उड़ना पड़ता है, आपको इस ट्रेनिग मे कुल मिलाकर 60 घंटे (60HRS) हमे विमान उड़ने का कार्य (प्रोसेस) करना होता है .

एग्जाम पास करने के बाद फिरसे एक विमान उड़ने की प्रोसेस होती है जो की वोह 250 घंटो की होती है, इनमें PPL के घंटे नही जुड़े होते है, इस प्रोसेस को CPL कहा जाता है, उनके बाद हमरा फिरसे एक दफा मेडिकल टेस्ट होता है और एक एग्जाम देना होता है इनमें पास होने के बाद और CPL मिलने के बाद आप पायलट बनने के लिए नियुक्त हो जाते है|

Read Also Important Book:

दोस्तों अगर आपको कोई भी सवाल हो रहा हे तो Comment Box मे आप हमे Comment करके बता सकते हो हम आपको आपके सवालो का सही जवाब जरुर देंगे आप अपनी तरफ से सुजाव भी दे सकते हे ताकि और भी Students को Help मिल सके| धन्यवाद!

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here