GK/GS History Study Notes UPSC

जानिए भारतीय नागरिकों के मुख्य मूल अधिकार

भारत के मूल अधिकार

हेल्लो दोस्तों आज हम आपके लिए भारतीय नागरिकों के मुख्य मूल अधिकार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आये हेl भारत नागरिकों के मूल अधिकार हर तरह की प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बहोत ही महत्वपूर्ण टॉपिक हैl भारतीय नागरिकों के मुख्य मूल अधिकार से जुड़े प्रश्न अकसर  SSC, UPSC, IAS, BANKING EXAM, RAILWAY, POLICE, NDA/CDS और हर तरह की विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं में पूछे जाते हैl

जानिए भारतीय नागरिकों के मुख्य मूल अधिकार के बारे में पूरी जानकारियां हिंदी मेंl

जानिए भारतीय नागरिकों के मुख्य मूल अधिकार ( भारत के मूल अधिकार )

मौलिक अधिकार क्या हैं ?

भारतीय नागरिको के मुख्य 6 मूल अधिकार प्राप्त है, जो निचे निम्नलिखित किया गया हैं l

जरुर पढ़े : जानिए मानव शरीर से जुड़े रोचक महत्त्वपूर्ण तथ्य

( 1. ) समानता का अधिकार

  • कानून के समक्ष समानता
  • धर्म, नस्ल, जाति, लिंग या जन्म स्थान के आधार पर भेदभाव का निषेध
  • सरकारी पदों की प्राप्ति के लिए अवसर की समानता
  • अस्पुश्यता का निषेध
  • उपाधियों का अन्त

( 2. ) स्वतंत्रता का अधिकार

  • विचार और अभिव्यति की स्वतंत्रता
  • अस्त्र-शस्त्र  रहित तथा शान्तिपूर्वक सम्मेलन की स्वतंत्रता
  • समुदाय और संघ निर्माण की स्वतंत्रता
  • भारत राज्य क्षेत्र में अबाध भ्रमण की स्वतंत्रता
  • भारत राज्य क्षेत्र में अबाध निवास की स्वतंत्रता
  • वृत्ति, उपजीविका या कारोबार की स्वतंत्रता
  • अपराध की दोष सिध्दि के विषय में संरक्षण
  • व्यक्तिगत स्वतंत्रता तथा जीवन की सुरक्षा
  • बंदीकरण की अवस्था में संरक्षण

जरुर पढ़े :भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय दिवस और अंतर्राष्ट्रीय दिवस की सूचि पढ़िए

( 3. ) शोषण के विरुद्ध अधिकार 

  • मनुष्यों के क्रय-विक्रय और बेगार पर रोक
  • 14 वर्ष से कम आयु के बच्चो को कारखानों, खानों तथा अन्य खतरनाक कामों में नौकरी पर रखने पर निषेध

( 4. ) धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार 

  • अन्त:करण की स्वतंत्रता
  • धार्मिक मामलों का प्रबन्ध करने की स्वतंत्रता
  • धार्मिक व्यय के लिए निश्चित धन पर कर की अदायगी से छुट
  • शिक्षण संस्थाओ में धार्मिक शिक्षा प्राप्त करने या न प्राप्त करने की स्वतंत्रता

जरुर पढ़े: भारत की भौगोलिक सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में पढ़िए

( 5. ) संस्कृति और शिक्षा सम्बन्धी अधिकार

  • संविधान सभी अल्पसंख्यकों अधिकार देता है की वे अपनी भाषा, लिपि व संकृति को बनाए रख सकते हैं और इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए वे शिक्षा संस्थाओ की स्थापना तथा उनका संचालन कर सकते हैं l

( 6. ) संवैधनिक उपचारों का अधिकार

  • संविधान व्दारा प्रदान किए गए इस अधिकार को डॉ . बी. आर . अंबेडकर ने “संविधान का ह्रदय तथा आत्मा ” की संज्ञा दी l यह अधिकार सभी नागरिकों को छुट देता है की व अपने अधिकारों के संरक्षण के लिए सर्वोच्च न्यायालय के पास जा सकते हैं तथा अपने अधिकारों को लागू करने की माँग कर  सकते हैं l

नोट्स कीजिये : भारतीय नागरिकों को वर्तमान समय में सम्पत्ति का अधिकार मूल अधिकार के रूप में प्राप्त नहीं है l इसे  44वें संविधान संशोधन व्दारा एक क़ानूनी अधिकार बना दिया गया जिसका उल्लेख अनुच्छेद  ‘300 क ‘ में है l

प्रतियोगि परीक्षाओं के लिए जरुरी अधियन सामग्रीः
  1. भारत की पंचवर्षीय योजना की जानकारी हिंदी में पढ़िए
  2. भारतीय कर व्यवस्था की सामान्य जानकारी
  3. पृथ्वी की आंतरिक संरचना के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी
  4. भारतीय अर्थव्यवस्था के प्रकार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां
  5. भारतीय इतिहास के प्रमुख युद्ध की सूचि
  6. परीक्षा के दौरान उत्साही रहने के लिए 5 युक्तिया जरुर पढ़िए
  7. भारतीय रेल परिवहन के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियाँ
  8. भारत के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, लोकसभा अध्यक्ष के नाम की सूची
  9. भारत की नदियाँ से जुडे सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी 2018
  10. मौर्य काल का इतिहास PDF Download Free

दोस्तों Daily Latest Paid eBook & Current Affairs, GK Notes, Couching Study Materials FREE Download करने के लिए हमेशा हमारी Website Daily Visit कीजिऐ और अपनी आने वाली Competitive Exams की तेयारी सरल तरीके से कीजिये। अपने दोस्तों को Whatsapp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को मुक्त में PAID PDF BOOK मिल पाए। धन्यवाद्।

Leave a Comment

error: Alert: Content is protected !!